नहीं रहे छ.ग. विधानसभा के पूर्व उपाध्‍यक्ष बद्रीधर दिवान, बिलासपुर के अस्‍पताल में दम तोड़ी

Chhattisgarh Assembly Former Deputy Speaker Death
Chhattisgarh Assembly Former Deputy Speaker Death

BJP के नींव रखने वालों में एक एवं छ.ग. विधानसभा के पूर्व उपाध्‍यक्ष श्री बद्रीधर दिवान का मंगलवार शाम (4 मई 2021) को बिलासपुर के एक नीजि अस्‍पताल में अंतिम सांस ली और दम तोड़ दिया।

27 नवम्‍बर 1929 को देवरी (बिलासपुर) में जन्‍में बद्रीधर दिवान मध्‍यप्रदेश शासन के दौरान 70 के दशक में वे राजनीति में अपना कदम रखा था, सन 2000 में जब छत्तीसगढ़ राज्‍य का गठन हुआ तब उन्‍होने बिसासपुर के बेलतरा नामक क्षेत्र से 3 बार प्रतिनिधित्‍व किया था। साथ ही वे लोकसभा में सन 2005 एवं 2015 में विधानसभा के उपाध्‍यक्ष के रूप में चुना गया था । विदित हो कि वे 2018 के चुनाव में अपनी अधिक उम्र के कारण चुनाव के मैदान में नहीं उतर सके । उनके स्‍थान पर भाजपा की तरफ से रजनीश कुमार को चुनाव में उतारा गया और भाजपा ने आसानी से जीत हासिल किया था।

श्रद्धांजली-

छ.ग. के वर्तमान विधानसभा अध्‍यक्ष डॉ. चरणदास महंत ने पूर्व उपाध्‍यक्ष बद्रीधर दिवान के मृतात्‍मा को श्रद्धांजली देते हुए उनके मौत पर शोक एवं दुख व्‍यक्‍त किया । वे अपनी लगन एवं मिलनसार प्रवृत्ति के कारण राजनीति के क्षेत्र में विशेष मुकाम हासिल किया ।

वर्तमान मुख्‍यमंत्री ने जताया शोक-

छ.ग. के तत्‍कालिन मुख्‍यमंत्री भूपेश बघेल ने भी पूर्व उपाध्‍यक्ष दिवान जी के निधन पर शोक व्‍यक्‍त किया और उनके परिजनों को इस दुख को सहन करने की शक्ति प्रदान करने के लिये भगवान से प्रार्थना की है ।

दिवान जी का राजनीतिक करियर-

बद्रीधर दिवान जी 70 के दशक में 1977 में जनता पार्टी बिलासपुर के अध्‍यक्ष बनाये गये तथा पुन: 1980 में उन्‍हें म.प्र. भाजपा की प्रदेश कार्यकारिणी समिति के अध्‍यक्ष बनाया गया, ऐसे ही उन‍की प्रतिभा एवं देशसेवा के प्रति लगन के कारण 1990 में उन्‍हें विधानसभा के लिये चुना गया तथा छ.ग. में 2005 एवं 2015 में छ.ग. विधानसभा के उपाध्‍यक्ष चुना गया ।

Share Post Your Friends.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *